26+ Interesting Facts about Jupiter planet information | Jupiter planet weather

Facts about Jupiter planet information
Source: Google | Image by Flickr

Facts about Jupiter planet information – वैज्ञानिकों के अनुसार हम बृहस्पति ग्रह को नंगी आंखों से देख सकते हैं। इसे देखने के लिए किसी दूरबीन की जरूरत नहीं है क्योंकि इस ग्रह का आकार सभी ग्रहों में सबसे बड़ा है। बृहस्पति ग्रह का 1 दिन (अपनी धुरी पर घूमने की अवधि) 9 घंटे 55 मिनट है। इस का दिन सभी ग्रहों में सबसे छोटा होता है। सूर्य, चंद्रमा और शुक्र के बाद इस को सबसे चमकीला ग्रह माना जाता है, इस का भार सभी ग्रहों के भार से ढाई गुना अधिक है।

Facts about Jupiter planet information

1. इस को सौर मंडल में सूर्य की परिक्रमा करने वाले ग्रहों में से एक विशाल ग्रह माना जाता है। इस का वजन पृथ्वी से 318 गुना ज्यादा है।

2  इस ग्रह का नाम रोमन देवताओं के राजा के नाम पर रखा गया है।

3. इसके वृत्त को लघु सौर मंडल भी कहा जा सकता है।

4. Facts of Jupiter planet – कहा जाता है कि बृहस्पति ग्रह पर कोई भूमि नहीं है, यह गैस के बादल से बना ग्रह है, इसलिए यहां जीवन असंभव है। 90% हाइड्रोजन, 10% हीलियम और कुछ मात्रा में मीठे पानी के अमोनिया और रॉक कणों से बना है।

5. इस ग्रह का आकार इतना बड़ा है कि इस को पृथ्वी से नग्न आंखों से देखा जा सकता है।

6 यहां तक कि इस ग्रह पर भी रिंग्स शनि ग्रह की तरह रहती हैं, लेकिन ये रिंग्स केवल नामात्र ही दिखाई देती हैं।

7. इस ग्रह का न्यूनतम tempreture -148 डिग्री सेल्सियस तक हो जाता है।

8. पृथ्वी के 12 वर्ष इस ग्रह के 1 वर्ष के बराबर है।

9. इस ग्रह में मंगल जैसे अन्य ग्रहों की कक्षा (कक्षा) को बदलने की क्षमता है और इसका मुख्य कारण इसका वजन है।

10. Information about Jupiter planet – इस ग्रह का आंतरिक व्यास 139,822 किमी और ध्रुवीय व्यास 133,709 किमी। इस का चुंबकीय क्षेत्र पृथ्वी से 16 गुना अधिक शक्तिशाली है। यह अपनी कक्षा में आने वाले किसी भी अंतरिक्ष यान को आसानी से नष्ट करने में सक्षम है।

11. इस ग्रह का सबसे पहले 7वीं या 8वीं शताब्दी ईसा पूर्व पता चला। इसकी खोज बेबीलोन के खगोलविदों ने की थी।

12. यह ग्रह लाल, भूरे, नारंगी रंग में दिखाई देता है। इसका कारण इसके बादलों में अमोनिया क्रिस्टल और अमोनियम हाइड्रोसल्फाइड की उपस्थिति है।

13. यह चाहे कितना भी बड़ा हो लेकिन उसके घूमने की गति बहुत तेज है. जुपिटर प्लैनेट पर दिन अन्य ग्रहों के मुकाबले छोटा होता है।

14. वैज्ञानिकों के मुताबिक, जुपिटर प्लेनेट पर करीब 355 साल से एक भयंकर तूफान चल रहा है, जिसे ‘द ग्रेट रेड स्पॉट’ कहा जाता है। दरअसल, यह तूफान एक लाल धब्बे के जैसा दिखाई देता है। इस तूफान के बारे में कहा जाता है कि यह इतना बड़ा है कि इसमें पृथ्वी जैसे तीन ग्रह आराम से समा जाएं। हालांकि वैज्ञानिक इसपर लगातार नजर बनाए हुए हैं, लेकिन वैज्ञानिक अब तक इस रहस्य का पता नहीं लगा पाए हैं कि यह तूफान आखिर सैकड़ों साल से लगातार कैसे चल रहा है।

Facts about Jupiter planet information
Source: Google | Image by Wikimedia

१5. वैज्ञानिकों के द्वारा इस के उपग्रह गैनीमेड (Ganymede) में भूमि के नीचे सागर का पता लगाया गया है। इस तरह इस सागर में मौजूद पानी पूरी पृथ्वी में मौजूद पानी से कहीं ज्यादा हो सकता है।

16. इस गृह पर सोलर सिस्टम का सबसे शक्तिशाली चुंबकीय क्षेत्र (magnetic field) मौजूद है। जहाँ पृथ्वी पर हाइड्रोजन सामान्यतः गैस रूप में पाया जाता है, वहीं इस ग्रह के आंतरिक कोर में उच्च ताप और दाब के कारण हाइड्रोजन liquid metallic रूप में पाया जाता है। इस liquid metallic hydrogen के विशाल समुद्र में इस के घूर्णन के फ़लस्वरूप उत्पन्न भंवर धारायें शक्तिशाली चुंबकीय क्षेत्र का निर्माण करती हैं।

17. Jupiter the planet facts – इस प्लेनेट पर अब तक 9 अंतरिक्ष यान भेजे जा चुके हैं, उनके नाम हैं : Pioneer 10, Pioneer 11, Voyager 1, Voyager 2, Galileo, Ulysses, Cassini-Huygens, New Horizon और Juno इत्यादि। Pioneer पहला यान था जिसे 3 दिसंबर 1973 को भेजा गया था।

21. सूर्य के सामने इस प्लेनेट का आकार मटर के दाने के समान है अनुमान लगाया जाय तो सूर्य में लगभग 1000 बृहस्पति आसानी से समा सकते हैं।

22. कहा जाता है कि इस पर कोई धरातल नहीं है । यह एक गैसीय पिंड है, जो 90% हाइड्रोजन, 10% हीलियम और काम  मात्रा में मीथेन, जल, अमोनिया और चट्टानी कणों से मिलकर बना हुआ है. इसकी संरचना उस प्रारंभिक सोलर नेबुला की संरचना से काफ़ी मिलती जुलती है, जिससे सौरमंडल का निर्माण हुआ।

23. बृहस्पति ग्रह अपने Great Red Spot (GRS) के लिए भी जाना जाता है. Great Red Spot (GRS) वास्तव में हरिकेन (hurricane) के जैसा  एक विशाल तूफ़ान है, जो लगभग 300 वर्षों से इस (जुपिटर प्लेनेट) पर चल रहा है. इस तूफ़ान में हवाओं की चाल 270 मील प्रति घंटा है, जो इसे अंतरिक्ष का सबसे भयंकर तूफ़ान बनाती है। GRS आकार में पृथ्वी से 3 गुना बड़ा है। How to Play PS2 Games on Pc

24. जुपिटर प्लेनेट को जोव (Jove) के नाम से भी पुकारा  जाता था, जो प्राचीन रोम में आकाश और बादलों के देवता तथा ‘देवताओं के राजा’ (King Of God) माने जाते थे।

25. मेसोपोटामिया में रहने वाले इस ग्रह को मर्दुक (Marduk) कहते थे और इसे बेबीलोन शहर का संरक्षक मानते थे।

26. इस ग्रह के केंद्र का टेम्प्रेचर  लगभग 24 हजार डिग्री सेल्सियस (43,000 डिग्री फेरनहाइट) है, जो सूर्य की सतह से भी अधिक गर्म है. केंद्र के विपरीत इस की बाहरी परत अत्यंत ठण्डी है।

27. जुपिटर प्लेनेट का मैगनेटिक फील्ड सूर्य की ओर 600,000 से 2 मिलियन मील दूर तक फैला हुआ है. यह अपार मैगनेटिक फील्ड अपने ध्रुवों पर शानदार aurora बनाता है।

Spread the love

Leave a Comment