25+ Fun Facts About Adolf Hitler | How Adolf Hitler Rise To Power in Hindi

Facts About Adolf Hitler
Source: Google | Image Wikimedia

Adolf hitler history – हिटलर कौन है? और उसकी मृत्यु कैसे हुई? हिटलर के बचपन और एडॉल्फ हिटलर के असली नाम के बारे में जानें। साथ ही, Facts About Adolf Hitler, how Adolf hitler rise to power? और कौन थीं ईवा ब्राउन?

Adolf Hiter born – सबसे क्रूर तानाशाह के रूप में जाने-जाने वाले एडोल्फ हिटलर का जन्म 20 अप्रैल 1889 को ऑस्ट्रिया में हुआ था। उसको इतिहास का सबसे खतरनाक नेता माना जाता है। जिसके सामने पूरी दुनिया कांप रही थी। हिटलर मानव इतिहास में सबसे विनाशकारी युद्ध का कारण बना। जिसके कारण लाखों लोगों की जान चली गई।

प्रथम विश्व युद्ध के बाद जहाँ तानाशाही प्रवृत्ति का उदय हुआ। दूसरी ओर, उसके के अधीन जर्मनी में एक नाजी पार्टी की स्थापना हुई। जर्मनी के इतिहास में हिटलर का वही स्थान है जो फ्रांस में नेपोलियन बोनापार्ट, इटली में मुसोलिनी और तुर्की में मुस्तफा कमालपाशा का है।

उन्होंने अपनी निर्विवाद क्षमता, विलक्षण प्रतिभा और राजनीतिक कटुता के कारण जर्मनी गणराज्य पर अपना वर्चस्व बरकरार रखा। जर्मनी में हिटलर का उदय और सत्ता की प्राप्ति अचानक नहीं हुई थी। उनकी शक्ति पिछले दो वर्षों में विकसित हुई। तो आज हम जानेंगे एडोल्फ हिटलर के रोचक तथ्य के बारे में। चलिए, शुरू करते हैं। 

एडोल्फ हिटलर का बचपन (Adolf Hitler’s childhood):

Biography Adolf Hiter – मई 1895 में, जब वह छह साल का था, तब उसे गाँव के स्कूल में भर्ती कराया गया था। स्कूल में शिक्षक उसे अनुशासन में रखते थे और जब वह घर वापस आता था तो उसके पिता सख्त रवैया अपनाते थे। अपने पिता के सख्त रवैये से परेशान एडोल्फ हिटलर एक बार घर से भाग गया था लेकिन बाद में लौट आया।

अब उनके पिता ने शहर छोड़ने का फ़ैसला किया और ऑस्ट्रिया के लंबाडा शहर में बस गए। लम्बाडा में एक पुराना कैथोलिक चर्च था जहाँ एडॉल्फ स्कूल के बाद खेलने जाता था। वह अक्सर उस चर्च में पत्थरों और लकड़ी से बने स्वस्तिक चिह्न को देखता था। अब वह अक्सर चर्च जाता था और उसने याजक बनने की ठान ली थी।

फिर 1898 में उनका परिवार हमेशा के लिए अपने पैतृक गाँव लेओडिंग वापस आ गया। 1900 में, एडॉल्फ हिटलर के छोटे भाई एडमंड की चेचक के कारण मृत्यु हो गई, जिससे एडॉल्फ हिटलर को गहरा धक्का लगा।

अब उसका आत्मविश्वास टूट गया था और अक्सर उदास रहने लगा था। 3 जनवरी 1903 को एडॉल्फ हिटलर के पिता एलोइस की अचानक मृत्यु हो गई। अब स्कूल में एडॉल्फ का प्रदर्शन अच्छा नहीं था, इसलिए उसकी माँ ने उसे स्कूल से निकाल दिया और उसे रियलस्कूल (एक प्रकार का माध्यमिक विद्यालय) में भर्ती कराया, जहाँ उसके प्रदर्शन में सुधार हुआ।

प्रथम विश्व युद्ध में हिटलर की क्या भूमिका थी?

मई 1913 में, हिटलर ने वियना को म्यूनिख छोड़ दिया और 16 वीं बवेरियन इन्फैंट्री रेजिमेंट में शामिल हो गया। उसके बाद जब अगस्त 1914 में प्रथम विश्व युद्ध शुरू हुआ, तो वह अन्य यूरोपीय शक्तियों और अमेरिका के खिलाफ एक धावक के रूप में सेवा कर रहा था।

युद्ध के दौरान, उन्होंने जर्मनी के पश्चिमी मोर्चे पर गौरव के साथ लड़ाई लड़ी। वह एक बहादुर और सक्षम सैनिक साबित हुए, इसलिए उन्हें बहादुरी के लिए पहला आयरन क्रॉस सम्मान मिला। इस समय वे दो बार घायल हुए और पोमेरानिया नामक अस्पताल में उनका इलाज़ किया गया। यह युद्ध 1918 तक चला।

हिटलर सत्ता में कैसे आया (How Adolf hitler rise to power?):

प्रथम विश्व युद्ध में जर्मनी की हार के कारण हिटलर ने 1919 में सेना छोड़ दी और अपनी अलग पार्टी बना ली। जिसे नाजी पार्टी (नेशनल सोशलिस्ट आर्बिटर पार्टी) का नाम दिया गया। जिसका उद्देश्य कम्युनिस्टों और यहूदियों से सारे अधिकार छीन लेना था, क्योंकि उनका मानना ​​था कि जर्मनी की हार का कारण कम्युनिस्ट और यहूदी थे।

जर्मनी की हार के कारण हिटलर और अन्य जर्मनों के बीच घृणा की भावना पैदा हो रही थी। यही कारण था कि नाज़ी पार्टी के सदस्यों में देशभक्ति की भावना अत्यधिक प्रबल थी।

हिटलर ने अपनी पार्टी के सिद्धांतों को जनता के सामने प्रदर्शित करने के लिए समाचार पत्रों का सहारा लिया और भूरे रंग की पोशाक पहनने वाले सैनिकों की एक टुकड़ी भी तैयार की। 1923 में, हिटलर ने जर्मन सरकार को उखाड़ फेंकने की कोशिश की, लेकिन इसमें वह सफल नहीं हो सका। 20 फरवरी, 1924 को, हिटलर पर “देशद्रोह” का मुकदमा चलाया गया और उसे पाँच साल के कारावास की सजा सुनाई गई।

कई जर्मन पार्टी के सदस्य बन गए जब नाजी पार्टी के नेता हिटलर ने बिगड़ती आर्थिक स्थिति के कारण अपने शानदार भाषणों में इसे ठीक करने का आश्वासन दिया।

हिटलर ने भूमि में सुधार करने, वर्साय की संधि को समाप्त करने और एक विशाल जर्मन साम्राज्य में सुधार करने का लक्ष्य रखा ताकि जर्मन जनता ख़ुशी से रह सके। 1933 में जर्मनी के चांसलर बनने के बाद हिटलर ने जर्मन संसद को भंग कर दिया। इसके बाद उन्होंने कम्युनिस्ट पार्टी को त्याग दिया और राष्ट्र को स्वावलंबी बनने की बात कही।

नाजी विरोधी पुरुषों को जेल में डाल दिया गया। हिटलर ने कार्यपालिका और कानून बनाने की सारी शक्तियाँ अपने हाथ में ले लीं। 1934 में, उन्होंने ख़ुद को सर्वोच्च न्यायाधीश घोषित किया। हिंडनबर्ग की मृत्यु के बाद वे जर्मनी के राष्ट्रपति भी बने

1933 में जब ने जर्मनी पर अधिकार किया, तो उसने वहाँ एक नस्लवादी साम्राज्य की स्थापना की। उसके साम्राज्य में यहूदियों को उप-मानव कहा जाता था और उन्हें मानव जाति का हिस्सा नहीं माना जाता था।

द्वितीय विश्व युद्ध में हिटलर की भूमिका (Adolf hitler and world war 2):

1 सितंबर 1939 को हिटलर ने यूरोप पर अपना नियंत्रण स्थापित करने के लिए द्वितीय विश्व युद्ध शुरू किया। वे पूरे ब्रिटेन पर अधिकार करना चाहते थे, इसके लिए उन्होंने कई राज्यों के साथ संधि की और कई राज्यों पर विजय प्राप्त की। युद्ध से पहले उसने 1937 में इटली के साथ एक संधि की और उसके बाद उसने ऑस्ट्रेलिया पर भी विजय प्राप्त की।

हिटलर ने फिर रूस के साथ एक संधि की और पोलैंड के पूर्वी भाग का नाम रूस रखा और धीरे-धीरे पश्चिमी भाग पर भी अधिकार कर लिया। फ्रांस की हार और मुसोलिनी के साथ संधि करने के बाद, उसने रूस पर अपना अधिकार ज़माने के बारे में भी सोचा और उस पर हमला कर दिया।

हिटलर के नेतृत्व में और हिटलर की प्रेरणादायी योजनाओं से नाजी साम्राज्य ने लगभग 55 लाख यहूदियों को मार डाला। युद्ध में मारे गए 19.3 मिलियन लोगों और द्वितीय विश्व युद्ध में कैदियों को ले जाने के लिए हिटलर और नाजी साम्राज्य ज़िम्मेदार हैं।

Facts About Adolf Hitler and

1. Adolf Hiter wives – एडोल्फ हिटलर की एक प्रेमिका थी जिसका नाम ईवा ब्राउन था। हिटलर ईवा ब्राउन को बिना कपड़े उतारे और बिना छुए उतार देता था। प्रसिद्ध लेखक मार्टिन एमिस का मानना ​​है कि नाजी नेता (हिटलर) अलैंगिक थे और वे स्वच्छता के प्रति इतने जुनूनी थे कि उन्होंने ईवा ब्राउन को अपने पास नहीं आने दिया।

एमिस का कहना है कि एडॉल्फ हिटलर को ईवा ब्राउन ने बिना छुए या बिना कपड़े पहने काट दिया था। चेल्टनहैम लिटरेचर फेस्टिवल में, 65 वर्षीय एमिस ने कहा कि हिटलर की कामुकता एक बड़े छेद वाला बैल-पक था।

2. हिटलर और नाजी साम्राज्य 19.3 मिलियन लोगों की मृत्यु के लिए ज़िम्मेदार हैं और द्वितीय विश्व युद्ध में भेजे गए एक मिलियन कैदियों के लिए भी ज़िम्मेदार हैं।

3. प्रलय इतिहास में एक नरसंहार था जिसमें छह वर्षों में लगभग साठ लाख यहूदियों की हत्या कर दी गई थी। इनमें 15 लाख बच्चे थे। जो एडॉल्फ हिटलर के कारण हुआ था।

4. Adolf hitler history fact: प्रथम विश्व युद्ध में एक ब्रिटिश सैनिक ने एक घायल जर्मन सैनिक की जान बचाई थी, उस घायल सैनिक का नाम एडोल्फ हिटलर था।

5. एडोल्फ हिटलर का जन्म 20 अप्रैल 1889 को ऑस्ट्रिया में हुआ था लेकिन जब वह जर्मनी के राष्ट्रपति बने तो उन्होंने सबसे पहले ऑस्ट्रिया पर हमला किया।

6. सैनिकों को कॉल गर्ल से बचाने के लिए हिटलर सेक्स डॉल देता था।

7. हिटलर के सिर्फ़ दो नहीं बल्कि एक ही अंडकोष था। स्टैमफोर्ड (एएचए) के अलेक्जेंडर हिस्टोरिकल ऑक्शन से मिली जानकारी के अनुसार हिटलर अपनी सेक्स पावर बढ़ाने के लिए सांड के वीर्य का इंजेक्शन लगाता था। इस इंजेक्शन में बैल के अंडकोष से निकाले गए वीर्य और कुछ अन्य दवाओं का मिश्रण शामिल था।

8. माना जाता है कि हिटलर ने अपने कुछ करीबी लोगों के साथ दूसरे विश्व युद्ध की समाप्ति से ठीक पहले 30 अप्रैल 1945 को एक तहखाने (बंकर) में आत्महत्या कर ली थी। यह सब उन्होंने ईवा ब्राउन से अपनी शादी के करीब 36 घंटे बाद किया।

9. हिटलर का असली नाम क्या है? उनका असली नाम “एडोल्फ हिटलर” था।

10. हिटलर के शासनकाल में 1936 में जर्मनी में ओलंपिक खेलों का आयोजन किया गया था। इस दौरान खेले गए हॉकी मैच में भारतीय टीम ने जर्मन टीम को 8-1 से मात दी

हिटलर, जिसे उस समय ‘हॉकी विजार्ड’ कहा जाता था, मेजर ध्यानचंद के हरफनमौला खेल से प्रभावित हुए और उन्हें अपने देश से खेलने की पेशकश की लेकिन देशभक्त ध्यानचंद ने बिना कुछ सोचे-समझे इस लुभावने प्रस्ताव को ठुकरा दिया। हिटलर ने भी उन्हें अपनी सेना में एक उच्च पद की पेशकश की, लेकिन मेजर ने इसे अस्वीकार कर दिया।

11. हिटलर की माँ (क्लारा पोल्ज़) हिटलर के पिता के दूर के भाई की बेटी थी, यही वज़ह है कि वह बचपन में उसे अंकल कहती थी। लेकिन हैरानी की बात यह है कि हिटलर के पिता की शादी को ज़्यादा समय बिताने के बाद भी, वह इस आदत को नहीं छोड़ पाई।

12. जर्मन भाषा में ‘एडॉल्फ’ का अर्थ है “शानदार भेड़िया“। हिटलर को शायद उसका नाम इतना पसंद आया था कि उसने अपने गुप्त ठिकाने का नाम इस तरह रखा था-वुल्फ्स लायर, वुल्फ्स हेडक्वार्टर। उन्होंने अपने प्यारे जर्मन शेपर्ड कुत्ते का नाम भी भेड़िया रखा।

13. हिटलर जब 18 साल का था, तब उसके माता-पिता भगवान को प्रिय हो गए थे। फेफड़ों की बीमारी के कारण उनके पिता की मृत्यु हो गई और उनकी माँ की स्तन कैंसर से मृत्यु हो गई।

14. प्रथम विश्व युद्ध (1914-1918) के दौरान हिटलर दो बार बुरी तरह घायल हुआ था। पहली बार वह ग्रेनेड बम के विस्फोट से लगभग अंधा हो गया था और दूसरी बार वह ज़हरीली गैस की चपेट में आया था।

15. हिटलर को 1923 के ‘बीयर हॉल पुट्स‘ (जर्मन सरकार को गिराने का प्रयास) में शामिल होने के लिए 9 महीने जेल की सजा सुनाई गई थी। यहाँ उन्होंने फुरसत के क्षणों में अपने जीवन पर ‘में काम्फ‘ नामक जर्मन पुस्तक लिखी, जिसका अर्थ है-मेरा संघर्ष

16. Strange Facts about Adolf Hiter – आपको जानकर बहुत हैरानी होगी कि बेरहम हिटलर शाकाहारी था जो मांस-मछली नहीं खाता था, जो अपनी तानाशाही के दम पर पूरी दुनिया को हिला रहा था। कहा जाता है कि अपनी एक गर्लफ्रेंड के आत्महत्या करने के बाद उन्होंने यह फ़ैसला लिया था।

17. Adolf Hiter wives – कहा जाता है कि एक समय था जब हिटलर एक यहूदी लड़की के प्यार में पागल था। वह चोरी-छिपे उसका पीछा करता था। उस समय भी उसके मन में लड़की को अगवा करने और आत्महत्या करने के विचार थे।

18. हिटलर की नाजी पार्टी का चिह्न स्वस्तिक था, जिसे सनातन धर्म में बहुत पवित्र माना जाता है।

19. हिटलर के पसंदीदा संगीतकार रिचर्ड वैगनर थे और उनकी पसंदीदा फ़िल्म किंग कांग थी, जो 1933 में रिलीज़ हुई थी। साथ ही, उनके पसंदीदा अभिनेता ‘चार्ली चैपलिन‘ थे, जिनसे प्रेरित होकर उन्होंने अपनी अजीब छोटी मूंछें रखीं, जिन्हें ‘टूथब्रश मूंछें‘ कहा जाता था।

20. Adolf Hiter and world war 2 – आश्चर्यजनक रूप से 7 करोड़ से अधिक लोगों की मृत्यु के लिए ज़िम्मेदार हिटलर को 1939 में ‘शांति के लिए नोबेल पुरस्कार‘ के लिए नामांकित किया गया था (हालाँकि उसे यह नहीं मिला) । इसके अलावा उन्हें मशहूर ‘टाइम्स मैगजीन’ ने 1938 में मैन ऑफ द ईयर का खिताब भी दिया था।

21. Adolf Hiter book – हिटलर ने अपनी एक किताब में भारत के बारे में उल्टा बहुत कुछ लिखा था। इस पर एक बैठक के दौरान नेताजी सुभाष चंद्र बॉस ने जब नाराजगी जताई तो हिटलर शर्मिंदा हो गया साथ ही विवादित बात को किताब से हटाने का वादा भी किया।

22. अल्बर्ट आइंस्टीन जैसा महान वैज्ञानिक भी हिटलर की तानाशाही का ख़ौफ़ सुनकर अमेरिका शिफ्ट हो गया। ऐनी फ्रैंक नाम की एक 15 वर्षीय यहूदी लड़की की डायरी पर आधारित किताब “डायरी ऑफ ए यंग गर्ल” को पढ़कर हिटलर के भीषण अत्याचारों को बहुत करीब से महसूस किया जा सकता है।

23. गौरतलब है कि मानवता के नाम पर कलंक कहे जाने वाले हिटलर ने भी जर्मनी में धूम्रपान विरोधी अभियान शुरू किया था। साथ ही उन्होंने जानवरों के प्रति क्रूरता पर सख्त कानून भी बनाए थे।

24. Facts about Adolf Hiter – एडॉल्फ हिटलर की मृत्यु कैसे हुई? हिटलर के ख़त्म होने के कुछ घंटे पहले ही हिटलर ने अपनी प्रेमिका ईवा ब्राउन से शादी कर ली थी। 30 अप्रैल 1945 को बर्लिन में हिटलर और ब्राउन की मृत्यु हो गई। माना जाता है कि अपनी संभावित हार से बेताब उसने ख़ुद को गोली मार ली थी जबकि ब्राउन ने ज़हर खा लिया था। हालांकि, इस तथ्य का कोई पुख्ता सबूत नहीं है।

Some hiddden Facts about Mhatama Gandhi ji

इसके अलावा, कुछ इतिहासकारों का यह भी मानना ​​है कि हिटलर की मृत्यु तहखाने में नहीं हुई थी, बल्कि अमेरिका के साथ एक गुप्त समझौते के तहत ईवा ब्राउन के साथ अर्जेंटीना गए, जहाँ उन्होंने अपनी मृत्यु (1962) तक एक गुमनाम जीवन बिताना जारी रखा।

Spread the love

Leave a Comment